Oxygen leakage: नासिक के अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई रोकी, 22 मरीजों की मौत, 35 की हालत गंभीर

कोरोना की दूसरी लहर ने स्वास्थ्य सेवाओं की पोल खोल दी है। प्रदेश के प्रमुख बड़े शहरों में कोरोना को लेकर हाहाकर मचा है। महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और राजस्थान सहित कई राज्यों में मेडिकल ऑक्सीजन का संकट पसरा है। वहीं कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी के साथ बढ़ती जा रही है। इस बीच अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई है। मेडिकल ऑक्सीजन सप्लाई नहीं होने से कई मरीजों का जान सांसत में है। इस बीच महाराष्ट्र के नासिक से बुरी खबर है जहां जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक हो गया।

Read More…..

Lockdown in Jharkhand: झारखंड में लगा पूर्ण लॉकडाउन, 22 से 29 अप्रैल तक रहेगा लागू

ऑक्सीजन की सप्लाई करीब 30 मिनट तक रुकी रही। इसके चलते करीब 22 मरीजों की मौत हो गई। अभी 30 से 35 मरीजों की हालात नाजुक बनी हुई है। महानगर पालिका के आयुक्त कैलाश जाधव ने 11 मरीजों की मौत की पुष्टि की है। अस्पातल में जिस वक्त ऑक्सीजन सप्लाई रोकी गई उस वक्त 171 मरीज ऑक्सीजन पर और 67 मरीज वेंटीलेटर पर थे। ऑक्सीजन सप्लाई अचानक रूकने से अस्पताल में अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

जानकारी के अनुसार, टैंक से से आने वाले सप्लाई पाइप में लीकेज हुआ था। अब इसे सही कर दिया गया है। इस लीकेज के दौरान 20 किलो लिक्विड ऑक्सीजन बर्बाद हो गया। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने इस मामले में कहा है कि हमें नासिक में ऑक्सीजन लीकेज की जानकारी मिली है। इस बारे में लगातार प्रशासन से संपर्क किया जा रहा है। हालांकि ऑक्सीजन सप्लाई रुकने पर हुई मौतों पर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US