Maharashtra Govt Crisis: क्या महाराष्ट्र में लगेगा राष्ट्रपति शासन, सरकार पलटने तैयारी में BJP

महाराष्ट्र में 100 करोड़ की वसूली के मामले में घिरी महा विकास अघाड़ी सरकार पर विपक्ष का दबाव बढ़ता जा रहा है। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सियासी बिसात बिछाई जा चुकी है। 2 मई को बंगाल सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम की घोषणा के साथ ही सूबे में कानून व्यवस्था के मुद्दे पर राष्ट्रपति शासन लगवाने की बीजेपी कोशिश में लगी है।

विश्लेषकों का कहना है कि बीजेपी लगातार विभिन्न मुद्दों को उठाकर महाराष्ट्र में कानून-व्यवस्था के खराब होने का माहौल की तैयार में लगी है। मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से बीजेपी सूत्रों ने कहा कि सचिन वाझे केस में एनसीपी की छवि एक बार फिर सिंचाई घोटाले की तरह धूमिल हो गई है। इसके चलते बीजेपी के रणनीतिकार एनसीपी के साथ सरकार बनाने के पक्षधर नहीं है। ऐसे में बीजेपी महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की रणनीति बनाने पर काम कर रही है। इससे पहले शिवसेना ने कहा कि बीजेपी ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह और आईपीएस अधिकारी रश्मि शुक्ला के साथ मिलकर प्रदेश सरकार को सत्ता से बाहर करने की साजिश रची है।

पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस की अगुवाई में बीजेपी नेताओं ने बुधवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। इस दौरान मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों और सचिन वझे मामले में बीजेपी ने राज्यपाल के दखल की मांग की है। परमबीर सिंह ने हाल में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर गृह मंत्री अनिल देशमुख पर पुलिस अधिकारियों से प्रतिमाह 100 करोड़ रुपये वसूली का आरोप लगया था।  

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US