Mansukh Hiren Death Case: कैसे सुलझी मनसुख हिरेन के मर्डर की गुत्थी, ATS का खुलासा

महाराष्ट्र ATS का दावा है कि एंटिलिया केस में Mansukh Hiren की मौत की गुत्थी सुलझ गई है। इस मामले में रविवार को दो लोगों को अरेस्ट किया है। एटीएस के डीआईजी शिवदीप ने कहा कि संवेदनशील मनसुख हिरेन केस की गुत्थी एक-एक तार जोड़कर सुलझा ली गई है। ठाणे एटीएस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

इनमें से एक नाम विनायक शिंदे है जो महाराष्ट्र पुलिस का एक सजायफ्ता कांस्टेबल है और दूसरा नरेश नामक सख्स क्रिकेट मैच फिक्सिंग से जुड़ा है। बता दें कि इससे पहले विनायक को मुंबई के लखन भैया फर्जी एनकाउंटर मामले में सजा हो चुकी है। इन दिनों वो पेरोल पर जेल से बाहर आया हुआ था। एटीएस ने कहा है कि नरेश गोर ने अपराध के लिए पांच बेनामी सिमकार्ड इस मामले के मुख्य आरोपी सचिन वझे और विनायक शिंदे को उपलब्ध कराया था।

एटीएस की तरफ से गिरफ्तार दोनों ही आरोपी को ठाणे की अदलात में पेश किया जहां से कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 30 मार्च तक के लिए पुलिस रिमांड पर सौंप दिया है। बता दें कि 25 फरवरी को मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के पास विस्फोटक से लदी एक स्कॉर्पियो बरामद की गयी थी। बाद में जांच में सामने आया कि जिस स्कॉपियो में जिलेटन कि छड़ बरामद की गी थी वो मनसुख हिरेन का था। घटना के सप्ताहभर बाद ही स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख का शव ठाणे में बरामद दिया था।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US