April Fool Day: जानिए क्यों मनाया जाता है ‘अप्रैल फूल डे’

अप्रैल के महीने के पहले दिन का अलग ही आकर्षण है। अप्रैल फूल डे के दिन लोग अपने दोस्तों, भाई-बहनों और परिवार वालों द्वारा किए गए चुटकलों का मजा लेते हैं। इस दिन हर कोई अपने प्रिय लोगों पर एक शरारत करने का अवसर तलाशते हैं। फिर चाहे वो मैसेज भेजकर हो या किसी तरह अलग हो। April Fool Day बस कुछ ऐसा करते हैं कि लोग खूब हंसी मजाक करते रहें।

क्या आप जानते हैं कि इस दिन को कब और क्यों मनाया जाता है? अप्रैल फूल डे को लेकर कई कहानियां प्रचलित हैं लेकिन इसके कोई पुख्ता प्रमाण नहीं है। april fools day special wishes कई जगह कहा गया है कि इसकी शुरुआत 1392 में हुई थी। कहीं कहा गया है कि अप्रैल फूल्स डे की शुरुआत फ्रांस में 1582 में उस वक्त हुई जब पोप चार्ल्स 9 ने पुराने कैलेंडर की जगह नया रोमन कैलेंडर शुरू किया।

Read More….

Dadasaheb Phalke Award: रजनीकांत को दादा साहब फाल्के पुरस्कार, जानिए कुली से सिनेमा तक का सफर

अप्रैल फूल डे 19वीं शताब्दी से ही लोकप्रिय रहा है। लेकिन यह देश में किसी सार्वजनिक अवकाश के तौर पर सेलिब्रेट नहीं किया जाता है। यूक्रेन के ओडेसा में अप्रैल का इस पहले दिन आधिकारिक अवकाश रखा जाता है। अप्रैल फूल के दिन पड़ोसी पर हानिरहित शरारतों के खेलने का रिवाज दुनिया में आम रहा है। इटली, फ्रांस, बेल्जियम में कागज की मछली बनाकर लोगों के पीछे चिपकाकर मजाक बनाई जाती है। स्पेनिश बोलने वाले देशों में 28 दिसंबर को अप्रैल फूल मनाया जाता है। ईरानी फारसी नववर्ष के 13वें दिन एक दूसरे पर तंज कसते हैं यह 1 या 2 अप्रैल का दिन होता है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US