Bengal Violence: बंगाल हिंसा मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, CBI जांच और राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

विधानसभा चुनाव के रविवार को आए नतीजों के अगले दिन से हो रही हिंसा का मामला अब सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है। पीएम मोदी ने मंगलवार को बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को फोन कर कानून व्यवस्था के हालात पर चिंता जताई है। हिंसा मामले में एक एनजीओ ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की गुहार लगाई है। याचिका के जरिए कहा गया है कि राज्य में संवैधानिक तंत्र पूरी तरह से फैल हो गया है। इस हालात में वहां संविधान के अनुच्छेद-356 का इस्तेमाल कर राष्ट्रपति शासन लगाया जाए।

Read More……

Coronavirus India: 24 घंटे में कोरोना केस में आई गिरावट, देश के 7 राज्यों में कम हुए मामले

वहीं बीजेपी प्रवक्ता और वरिष्ठ वकील गौरव भाटिया ने शीर्ष अदालत में याचिका दायर कर बंगाल चुनाव नतीजों के बाद हो रहे खून खराबे, हत्या और बलात्कार की घटनाओं की सीबीआई जांच करना की मांग की है। इस बीच चुनाव परिणामों के ठीक एक दिन बाद सोमवार को बंगाल में हुई कथित हिंसा के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। कोलकाता पहुंचे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल चुनाव के नतीजे आने के बाद हिंसा की जो घटनाएं आई है वो झटका देने वाली है। हम इसे लेकर काफी चिंतित हैं।

रविवार को आए चुनाव नतीजों के अगले दिन सोमवार को राज्य में हिंसा का दौर चला। बीजेपी का दावा है कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के हमले में अब तक 9 कार्यकर्ताओं की मौत हो चुकी है। राज्य में कई जगहों पर झड़पें और दुकानों में लूटपाट के साथ बीजेपी कार्यकर्ताओं की कथि हत्या पर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मंगलवार को एक बार फिर चिंता जताई है।  

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US