Oxygen के साथ टैंकर भी दीजिए, PM से फोन पर बात कर क्या बोले CM गहलोत

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अब ऑक्सीजन, रेमडेसिविर की मांग भी तेजी से बढ़ रही है। दोनों की मांग को लेकर केंद्र और राज्य में सियासत जारी है। ऑक्सीजन की कमी के बीच मंगलवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से टेलीफोन पर बात की। सीएम ने कोरोना से राज्य में पैदा हुए हालात और कोविड मैनेजमेंट पर मोदी से बात की। इस दौरान उन्होंने मोदी से ऑक्सीजन के साथ क्रायोजैनिक टैंकर उपलब्ध कराने को लेकर भी मांग की है।

Read More……

Lockdown in Karnataka: कर्नाटक में 14 दिनों का लॉकडाउन, जरूरी सेवाओं की छूट, सार्वजनिक परिवहन बंद

पीएम मोदी से बोले गहलोत-केंदर् सरकार ने जिस तरह पूरे देश में ऑक्सीजन प्लांट को एक्वायर करके राज्यों को अलॉट किया है। ठीक उसी तरह देश में क्रायोजैनिक टैंकरों को भी एक्वायर करें। बिना टैंकर के राज्यों में ऑक्सीजन नहीं आएगी। जितना आप ऑक्सीजन अलॉटमेंट कर रहे हैं, उसके साथ टैंकर भी दीजिए। इसके बाद ही राज्यों की शिकायतें खत्म हो सकेंगी। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गहलोत सरकार ने 18+ उम्र के लोगों को मुफ्त वैक्सीन लागने का फैसला किया है।

प्रदेश में 18 साल से ज्यादा आयुवर्ग के 2.90 करोड़ लोगों को कोरोना टीका लग सकेगा। इसके चलते सीएम गहलोत ने 3 हजार करोड़ रुपये खर्च आने का दावा किया है। आखिरकार लंबी जद्दोजहद के बाद गहलोत सरकरा ने 18 साल पार लोगों को फ्री वैक्सीन लगाने का ऐलान किया है। राज्य सरकार ने वैक्सीन का खर्च केंद्र से उठाने की मांग की थी। इसी खींचतान के कारण 1 मई से प्रस्तावित वैक्सीनेशन अकटा हुआ था। राजस्थान से पहले कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़ फ्री वैक्सीनेशन का ऐलान कर चुका है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US