Corona संकट में दुनिया के देशों ने बढ़ाया हाथ, भारत की मदद को खुलकर सामने आए ये देश

कोरोना महामारी को मात देने के लिए भारत के लिए दुनिया के कई देश आगे आए हैं। भारत में महामारी के इस आपदा के दौरान मदद के लिए गूगल, एपल, अमेजन, माक्रोसॉफ्ट सहित कई अन्य मल्टीनेशलन कंपनियां भी सामने आई है। इस मदद में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन सप्लाई, रेमडेसिविर समेत तमाम आवश्यक मेडिकल उपकरण की भी सप्लाई भेजी जा रही है।

दुनिया के कई देशों ने कोरोना संकट से निजात दिलाने के लिए भारत की तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है। सऊदी अरब, UAE, UK, रूस, अमेरिका समेत अनेक 20 से अधिक देशों ने सहायता के लिए आगे आए हैं। नागरिक रक्षा तंत्र के जरिए यूरोपीय देश-फ्रांस, आयरलैंड, बेल्जियम, रोमानिया, लग्जमबर्ग, पुर्तगाल और स्वीडन भारत को मेडिकल सहायताप्रदान कर रहे हैं।

– अमेरिका से 1700 ऑक्सीजन  कंसंट्रेटर, 1100 सिलेंडर और बड़े पैमाने पर ऑक्सीजन जेनरेशन यूनिट्स

– सऊदी अरब से 250 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर व 4 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर, 80 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन

ब्रिटेन से आज आई दूसरी खेप में हैं 120 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

– संयुक्त अरब अमीरात से 6 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर

जर्मनी तीन महीने के लिए मोबाइल ऑक्सीजन  उत्पादन प्लांट भेज रहा है।

– रूस से 20 ऑक्सीजन  कंसंट्रेटर

–  फ्रांस लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन 5 कंटेनर भेज रहा है। यह एक दिन में 10,000 मरीजों की ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए सक्षम है।

– आयरलैंड 700 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 

– हांग कांग से 800 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

– थाइलैंड से 4 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक

–  रोमानिया 80 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर व 75 ऑक्सीजन सिलेंडर

– पुर्तगाल से  20,000 लीटर ऑक्सीजन