Oxygen Crisis: देश के 12 राज्यों में ऑक्सीजन का संकट, कोरोना मरीजों पर बड़ा असर

देश में कोरोना वायरस से लगातार हालात बिगड़ते जा रहे हैं। पिछले 24 घंटे के भीतर देश में रिकॉर्ड 2 लाख 16 हजार 642 लोग संक्रमित मिले हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देश के 12 राज्यों में मेडिकल ऑक्सीजन का संकट छा गया है। ऑक्सीजन की कमी से जूझते मरीज दम तोड़ रहे हैं। कोरोना से बिगड़ते हालात के मद्देनजर केंद्र सरकार की एम्पॉवर्ड कमेटी ने इमरजेंसी बैठक बुलाई। इस मीटिंग में मेडिकल इक्यूपमेंट्स की कमी सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई।

Read More…..

Coronavirus in Rajasthan Curfew: राजस्थान में आज शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू, इनमें सेवाओं में रहेगी छूट

तय किया गया कि 50 हजार मीट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन दूसरे देशों से आयात की जाएगी। ऑक्सीजन का सबसे ज्यादा संकट महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, केरल, पंजाब, हरियाणा, कर्नाटक और राजस्थान में पसरा है। बता दें कि देश के कई राज्यों में कोरोना से हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। पिछले साल कोरोना की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में सामने आए संक्रमित मरीजों का ये सबसे बड़ा आंकड़ा है।

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आलम ये हो गया है कि देश के करीब 120 जिलों में बेड, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर जैसी सुविधाओं की कमी देखने को मिल रही है। देश में एक्टिव मरीजों की संख्या 15 लाख को पार कर गई है। अब यहां 15 लाख 63 हजार 588 मरीज ऐसे हैं जिनका अस्पातलों में उपचार चल रहा है। देश में कोरोना के प्रकोप का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दुनिया के टॉप संक्रमित शहरों की लिस्ट में भारत के 15 शहर शामिल हैं। पुणे इस लिस्ट में टॉप पर है तो मुंबई दूसरे पायदान पर है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US