Delhi Lockdown Part-2: दिल्ली के बस अड्डे पर मजदूरों का सैलाब, जानिए पलायन की पीड़ा

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर रोक लगाने के लिए केजरीवाल सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार से लॉकडाउन लगा दिया। इसके बाद से प्रवासी मजदूर पलायन कर रहे हैं। एक साल पहले की तस्वीरें फिर से नए रूप में सड़कों पर देखने को मिल रही है। हजारों की तादात में मजदूर अपने सामान और परिवार के साथ गांव के लिए निकल रहे हैं। हर मजदूर के घर पहुंचने की हड़बड़ी है। आखिर कोरोना से बिगड़ते हालात के बाद सोमवार सुबह दिल्ली सरकार ने 6 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया है।

Read More……

Lockdown UP: इलाहाबाद HC का यूपी के 5 शहरों में लॉकडाउन का आदेश, योगी सरकार ने SC का किया रुख

फिर से मजूदरों का शहरों से गांवों की तरफ पलायन चिंता का विषय है। आखिर मजदूर घर क्यों जाना चाहते हैं? इस पर बिहार के नन्नू सिंह कहते हैं कि मालिक ने कह दिया कि हालात ठीक नहीं है। घर निकल जाओ। अगर अभी नहीं निकले तो लॉकडाउन में फंस जाओगे। दिल्ली में 6 दिन के लॉकडाउन के ऐलान के कुछ घंटों में ही मजदूरों का सैलाब आनंद विहार टर्मिनस पर उमड़ पड़ा। स अड्डे पर मौजूद ज्यादातर मजदूर बिहार, झारखंड और उत्तर प्रदेश के हैं जो हर हाल में अपने गांव जाना चाहते हैं।

प्रवासी मजदूरों से सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपील कि है कि दिल्ली छोड़कर मत जाइए। केजरीवाल ने कहा कि प्रवासी मजदूरों से मेरी गुजारिश है कि परिस्थिति को देखते हुए छोटा सा लॉकडाउन लगाया गया है। दिल्ली छोड़कर मत जाइएगा। आने-जाने मे ही पूरा समय खर्च हो जाएगा। सीएम केजरीवाल ने सोमवार को दिल्ली में 6 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की। इसके साथ ही कल रात 10 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक 6 दिन के लिए लॉकडाउन लगा गया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US