Coronavirus Vaccine Crisis: महाराष्ट्र में वैक्सीन पर रार, मोदी के साथ पवार, क्या उद्धव कर रहे सियासत?

महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने वैक्सीन की कमी का हवाला देते हुए केंद्र के सामने अपनी मांगें रखी है। इस पर केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि स्टॉक में वैक्सीन की कमी नहीं है। केंद्र ने महाराष्ट्र सरकार पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा है कि केंद्र सरकार कोरोना महामारी से निपटने के लिए महाराष्ट्र सरकार के साथ पूरा सहयोग कर रही है।

Read More…..

Sachin Vaze ने NIA कोर्ट में फोड़ा लेटर बम, एक और मंत्री पर लगे वसूली के आरोप

बुधवार को ही स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि राज्य में कोरोना वैक्सीन का स्टॉक सिर्फ तीन दिन का बचा है। ऐसे में अब कोरोना वैक्सीन का संकट खड़ा हो सकता है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के अनुसार, राज्य में कोरोना वैक्सीन की भारी कमी है। बुधवार को उन्होंने कहा कि राज्य में सिर्फ 3 दिन का स्टॉक बचा है। ऐसे में केंद्र को तत्काल वैक्सीन की 40 लाख डोज मुहैया करानी चाहिए। टोपे के इस बयान के बाद राज्य के कुछ इलाकों में कोरोना टीकाकरण बंद करना पड़ा था। 

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि राज्य को 40 लाख डोज एक सप्ताह में जरूरी है। हम हर रोज 4 से 5 लाख तक लोगों को कोरोना का टीका लगा रहे हैं। अगर कोरोना वैक्सीन नहीं मिली तो समस्या खड़ी हो सकती है। इस मुद्दे पर खुद शरद पवार ने केंद्र सरकार का समर्थन करते हुए कहा कि केंद्र हर तरह से राज्य की मदद कर रहा है। केंद्र सरकार के समर्थन में आए शरद पवार के इस बयान से महाराष्ट्र में फिर से सियासी हलचल शुरू हो गई है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US