Covid 19 in Delhi: दिल्ली में राष्ट्रपति शासन की मांग, AAP MLA शोएब इकबाल बोले-कोई नहीं सुन रहा बात

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की रफ्तार रिकॉर्ड तोड़ रही है। बढ़ते कोरोना के मामलों से स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चरमरा गई है। इस बीच दिल्ली सरकार को उनके ही एक विधायक ने तगड़ा झटका दिया है। विधायक शोएब इकबाल ने हाईकोर्ट से अपील की है कि दिल्ली में अव्यवस्था फैल गई है। राजधानी में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग कर डाली। विधायक शोएब इकबाल की शिकायत है कि दिल्ली में मरीजों को न तो दवा मिल रही है और ना ही ऑक्सीजन।

Read More…….

EXIT Poll Assembly Election 2021: एक्जिट पोल में भाजपा को बढ़त, कांग्रेस हर मोर्चे पर पस्त, जानें- पांच राज्यों में किसकी सरकार?

कहा कि अस्पतालों में किसी की सुनवाई नहीं हो रही है और हर रोज लोगों की मौतें हो रही है। उन्होंने कहा कि छह बार विधायक होने के बाद भी उनकी कोई सुनवाई नहीं है। ऐसे में दिल्ली में तुरंत राष्ट्रपति शासन लगाया जाए वरना यहां लाशों के ढेर लग जाएंगे। शोएब इकबाल ने ऐसी मांग इसलिए रखी है क्योंकि उनका कहना है कि दिल्ली को केंद्र का सहयोग नहीं मिल रहा है। अगर केंद्र सरकार के हाथ में सबकुछ आए तो काम हो पाएगा। तीन महीने के लिए दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगना ही चाहिए।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी के साथ फैल रहा है। कोरोना के बढ़ते मरीजो से राजधानी में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई है। कोरोना मरीजों के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य व्यवस्थाएं पूरी तरह से चरमरा गई है। गुरुवार को दिल्ली में 24 घटें के दौरान 24235 नए मामले सामने आए, जबकि 395 लोगों की कोरोना से जान गई है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US