Delhi High Court में तीखी बहस, केजरीवाल बोले-केंद्र से पूछिए तीन दिन में क्या किया

दिल्ली हाईकोर्ट में ऑक्सीजन की कमी सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर आज भी सुनवाई हुई है। इस दौरान दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने हाईकोर्ट में कहा कि इन प्लांट को स्थापित करने के लिए जो काम होना था उस पर काम नहीं हो सका। दिल्ली सरकार के वकील ने कोर्ट में कहा कि केंद्र से पूछा जाए कि पिछले तीन दिनों में उसने क्या किया है?  

Read More……

Coronavirus से रिकवर हो चुके लोगों को कब लगेगी वैक्सीन? सरकार ने दिया ये जवाब

सीनियर एडवोकेट राहुल मेहरा ने कहा कि नई तकनीकी को तलाशा जा रहा है। हाईकोर्ट ने हमारे अधिकारियों से कहा था कि वे प्लांट के लोकेशन को लेकर केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखे, लेकिन हमें ऐसा नहीं करने दिया गया। दिल्ली सरकार ने कहा कि रेमेडिसेविर की जरूरत पर निगरानी रखने के लिए नेशनल और स्टेट लेवल की योजनाएं है। इससे कहीं कमी नहीं आ सकती। हमारे लिए लिमिट तय है। दिल्ली सरकार की दलील पर कोर्ट ने पूछा क्या जनता निजी लोगों से इसे खरीद सकती है। जवाब मिला नहीं।

दिल्ली में अभी ऑक्सीजन की किल्लत खत्म नहीं हुई है। स्वास्थ्य व्यवस्थाओं से जूझ रहे अस्पताल लगातार गुहार लगा रहे हैं। परिजन ऑक्सीजन के लिए दर-दर भटक रहे हैं। गुरुवार को इस मामले पर एक बार फिर से दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। दिल्ली सरकार ने कोर्ट में कहा कि ऑक्सीजन सप्लाई पर केंद्र सरकार कई रोड़ अटका रही है। कोरोना से बचाव के लिए केंद्र ने अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। दिल्ली सरकार ने आरोप लगाया कि केंद्र सिर्फ आदेश पारित कर रहा है। केंद्र की जवाबदेही तय होनी चाहिए।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US