Kumbh 2021: जूना अखाड़ा का पहला शाही स्नान, हरकी पैड़ी पर उमड़े नागा

कुंभ मेले के पहला शाही स्नान आज मध्य रात्रि से शुरू हो गया है। हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर रात से ही लोगों का तांता लगा हुआ है। मध्य रात्रि को लोगो ने सोमवती अमास्या का गंगा में स्नान किया है। सुबह के 4 बजे से ब्रह्मकुंड को अखाड़ों के साधुओं ने स्नान किया। सुबह 8 बजे बाद से शाही स्नान में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। कोरोना महामारी के संक्रमण के डर से इस बार शाही स्नान में पिछले कुंभ पर्वों की तुलना में कम संख्या में श्रद्धालु पहुंचे हैं।

Read More…

Maharashtra Coronavirus News:महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप, एक दिन में आए 63 हजार नए केस

अखाड़े के साधु संतों का शाही स्नान शाम के 5 बजे तक चलेगा। इसके लिए बाकी अखाड़े गंगा स्नान के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। आमजन गंगा के अन्य घाटों पर स्नान करने में लगे हैं। अखाड़े के साधु संतो ने गंगा नदी मे डुबकी लगाकर स्नान किया। इसके बाद जूना अखाड़े ने अग्नि, आह्वान और किन्नर अखाड़े के साथ गंगा नदी में शाही स्नान किया गया। नेपाल के पूर्व नरेश ज्ञानवेद्र वीर विक्रम शाह ने भी सोमवती अमास्या पर गंगा घाट पर शाही स्नान किया है।

कोरोना की चपेट में आने के कारण अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी स्नान में शामिल नहीं हो सके। लेकिन कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट साथ नहीं लाने वाले श्रद्धालुओं को हरिद्वार से बिना स्नान के वापस लौटना पड़ा है। कुंभ को लेकर शाही स्नान करने वाले साधु संतो और श्रद्धालुओं को पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने महाकुंभ के पहले शाही स्नान पर शुभकामनाएं दी है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US