Myanmar Violence: UNSC में भारत ने की म्यांमार हिंसा की निंदा, कहा- लोगों की मौत पर शोक, बरते अधिक संयम

म्यांमार हिंसा को लेकर भारत ने अपना पक्ष रखा है। Myanmar Violence की निंदा करते हुए भारत ने लोगों की मौत पर शोक जताया है। साथ ही म्यांमार से अधिक से अधिक संयम बरतने और हिरासत में लिए गए नेताओं को रिहा करने की अपील की है। म्यांमार की सेना ने 1 फरवरी को तख्तापलट किया था और एक साल के लिए सत्ता अपने हाथों में ले ली। सेना ने म्यांमार की नेता आंग सान सू की और राष्ट्रपति यू विन मिंट सहित कई शीर्ष नेताओं को हिरासत में लिया।

Read More…..

Dadasaheb Phalke Award: रजनीकांत को दादा साहब फाल्के पुरस्कार, जानिए कुली से सिनेमा तक का सफर

तख्तापलट के बाद देशभर में प्रदर्शन हुए जिसमें सेना की कार्रवाई में सैकड़ों लोग मारे गए। UN Security Council meeting में म्यांमार में स्थिति पर बुधवार को बंद कमरे में चर्चा की। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने हिंसा की निंदा की और लोगों की मौत पर शोक प्रकट किया। म्यांमार में सैन्य प्रशासन के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शनों और अब तक 400 से ज्यादा प्रदर्शनकारियों की मौत पर अमेरिका सहित कई देशों ने आलोचना की है।

लेकिन ऐसा लगता है कि इस मामले में भारत सरकार अब तक खामोश बनी हुई है। 27 मार्च को नेपीडाव में म्यांमार सशस्त्र सेना दिवस सैन्य परेड में भारत ने भाग लिया था। यह आयोजन उस दिन हुआ जब सैनिकों की गोलियों से करीब 100 नागरिकों की मौत हो गई।  आयोजन में शामिल होने वाले भारत के प्रतिनिधि के अलावा चीन, पाकिस्तान और रूस भी शामिल था। पहले माना जाता था कि म्यांमार सेना शरणार्थियों को रोकने में मदद कर रही है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US