#RafaleScam: राफेल सौदे में हुआ भ्रष्टाचार , फ्रेंच मीडिया रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

फ्रांस की समाचार वेबसाइट मीडिया पार्ट ने राफेल डील को लेकर बड़ा खुलासा किया है। रिपोर्ट में राफेल लड़ाकू विमान सौदे में भ्रष्टाचार की आशंकाओं के साथ सवाल उठाए हैं। फ्रेंच भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी AFA की जांच रिपोर्ट के अनुसार, दैसो एविएशन ने कुछ बोगस नजर आने वाले भुगतान किए हैं। कंपनी के 2017 के खातों के ऑडिट में 5 लाख 8 हजार 925 यूरो (4.39 करोड़ रुपए) क्लाइंट गिफ्ट के नाम पर खर्च दर्शाए गए। हालांकि, इतनी बड़ी रकम को लेकर कोई ठोस साक्ष्य नहीं दिया गया है।

Read More…..

Covid 19 In Rajashtan: राजस्थान में बढ़ाई सख्ती, 1 से 9वीं तक क्लासेज बंद, जानिए क्या रहेगा खुला-बंद

मॉडल बनाने वाली कंपनी का मार्च 2017 का एक बिल ही उपलब्ध कराया गया है। AFA के पूछने पर दैसो एविएशन ने बताया कि उसने राफेल विमान के 50 मॉडल एक भारतीय कंपनी से बनवाए। इन मॉडल के लिए 20 हजार यूरो यानी 17 लाख रुपये प्रति नग के हिसाब से भुगतान किया गया। मीडिया पार्ट की रिपोर्ट के अनुसार, मॉजल बनाने का काम कथित तौर पर भारत की कंपनी Defsys Solutions को सौंपा गाय। यह कंपनी देसो की भारत में सब-कॉन्ट्रैक्टर कंपनी है।

साल 2019 में अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर खरीद घोटाले की जांच मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने अरेस्ट किया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि सुषेण गुप्ता ने ही दैसो एविएशन को मार्च 2017 में राफेल मॉडल बनाने के काम का बिल दिया था। फ्रांस की वेबसाइट के दावे के बाद एक बार फिर से राफेल रक्षा सौदे को लेकर सियासत तेज हो गई है। पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राफेल सौदे में हुए भ्रष्टाचार को बड़ा मुद्दा बनाया था।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US