Interest Rates: 24 घंटे में ब्याज दर घटाने का फैसला वापस, निर्मला सीतारमण बोलीं-गलती से आदेश जारी

केंद्र सरकार ने लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने का फैसला लिया है। 24 घंटे के भीतर वित्त मंत्रालाय ने अपने आदेश को वापस ले लिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि गलती से interest rate घटाने का आदेश जारी हो गया था। सीतारमण ने कहा कि सभी योजनाओं पर ब्याज दर वही रहेगी। जो पिछले साल मार्च तिमाही में ही थी। लघु बचत योजनाओं पर पुरानी ब्याज दर जारी रहेगी।

Read More…..

Myanmar Violence: म्यांमार में संकट गहराने के संकेत, काचिन अल्पसंख्यकों का पुलिस चौकी पर हमला

बचत खाते में जमा रकम पर सालाना चार प्रतिशत ब्याज मिलता रहेगा। गौरतलब है केंद्र सरकार ने बुधवार को पीपीएफ और एनएससी सहित लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में 1.1 फीसदी तक की कटौती की। interest rates of small savings schemes कटौती एक अप्रैल से शुरू 2021-22 की पहली तिमाही के लिए की गई थी। ब्याज दरें घटने के रूझान के अनुरूप यह कदम उठाया गया था। वित्त मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार, पीपीएफ पर ब्याज 0.7 फीसदी कम कर 6.4 फीसदी जबकि एनएससी पर 0.9 फीसदी कम करके 5.9 प्रतिशत कर दिया गया था।

पांच साल की वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर ब्याज दर 0.9 फीसदी घटकर 6.5 फीसदी कर दिया गया था। इस योजना के तहत ब्याज तिमाही आधार पर दिया जाता है। पहली बार बचत खाते में जमा रकम पर ब्याज 0.5 फीसदी घटाकर 3.5 फीसदी कर दिया गया।  इस पर अब तक सालाना 4 फिसदी ब्याज मिलता था। ब्याज में सर्वाधिक 1.1 फीसदी की कौटीत एक साल की मियादी जमा राशि पर की गई थी। लेकिन अब पुरानी ब्याज दर 5.5 फीसदी ही रहेगी।  

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US