International Tiger Day: चुनौतियों के रहते भारत में बढ़ रहा बाघों का कुनबा, PM मोदी ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस पर वाइल्डलाइफ से जुड़े लोगों को बधाई दी है। उन्होंने बाघों के लिए सुरक्षित आवास सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता दोहराई है।विश्व स्तरपर बाघों की 70 फीसदी से अधिक आबादी का घर हम अपने बाघों के लिए सुरक्षित आवास सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Read More……

Bank डूबने पर 5 लाख तक रकम सुरक्षित, 90 दिन के भीतर ग्राहक को मिलेगा वापस पैसा

बता दें कि भारत में अब दुनियाभर में रहने वाले बाघों की कुल संख्या का करीब 70 फीसदी बाघ रहते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि भारत 18 राज्यों में फैले 51 टाइगर रिजर्व का घर है। 2018 की अंतिम बाघ गणना में बाघों की आबादी में बढ़ोतरी दर्ज हुई।  भारत ने बाघ संरक्षण पर सेंट पीटर्सबर्ग घोषणा के समय से चार सालपहले बागों की आबादी दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में बाघ क्षेत्र वाले देशों के शासनाध्यक्षों ने बाघ संरक्षण पर सेंट पीटर्सबर्ग घोषणा पर हस्ताक्षर कर 2022 तक बाघों का कुनबा दोगुना करने का लक्ष्य रखा था।

इसी बैठक में दुनियाभर में 29 जुलई को अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया था। पहली बार  WWF ने पाया कि उनकी संख्या में इजाफा हो रहा है। साल 2022 को उस वर्ष के रूप में चिह्नित किया गया है जब WWF का लक्ष्य बाघों की संख्या को दोगुना करके 6 हजार से ज्यादा करने में मदद करना है। मौजूदा दौर में दुनियाभर में बाघों की कुल संख्या 3,900 है। उन जंगली बाघों की कुल आबादी में से भारत में करीब 3,000 बाघ पाए जाते हैं।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US