National Film Awards 2021: सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म ‘छिछोरे’ को बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड का तोहफा

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार के 67वें समारोह का आयोजन सोमवार को शाम 4 बजे से शुरू हुआ। इस इवेंट का आयोजन नेशनल मीडिया सेंटर में किया गया है, जहां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान किया गया है। इसके चलते पूरी जानकारी पीआईबी के सोशल मीडिया एकाउंट पर साझा की गई है। इससे पहले ये समारोह कोरोना महामारी के कारण टाला जा चुका था। आज 2019 में  बनी फिल्मों के लिए बनाई गई फिल्मों के पुरस्कारों की घोषणा की गई है। 

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान पहले साल 3 मई 2020 को होना था लेकिन इसे कोरोना महामारी को लेकर उपजे संकट के कारण टालना पड़ा था। गौरतलब है कि पुरस्कारों के लिए आखिरी एंट्री 17 फरवरी 2020 तक रखी गई थी। इसके लिए जो क्राइटेरिया रखा गया है उसमें Central Board of Film Certification की ओर से 1 जनवरी 2019 से लेकर 31 दिसंबर 2019 तक फिल्मों को सर्टिफाइड किया गया। उनकी ही एंट्री पुरस्कार वितरण के लिए की गई है।

बेस्ट फीचर फिल्म-

बेस्ट हरियाणवी फिल्म- छोरियां छोरों से कम नहीं

बेस्ट छत्तीगढ़ी फिल्म- भुलन दी मेज

बेस्ट तेलुगु फिल्म- जर्सी

बेस्ट तमिल फिल्म- असुरन

बेस्ट पंजाबी फिल्म- रब दा रेडियो 2

बेस्ट मलियाली फिल्म- कला नोत्तम

बेस्ट मराठी फिल्म- बारडो

बेस्ट हिंदी फिल्म- छिछोरे

बेस्ट पॉप्युलर फिल्म- महर्षि

इंदिरा गांधी अवॉर्ड फॉर बेस्ट डेब्यू फिल्म ऑफ ए डायरेक्टर- हेलन (मलयालम)

बेस्ट फीचर फिल्म- मलियाली फिल्म Marakkar Arabikkadalinte- SimHam को मिला

फीचर फिल्म के लिए अवॉर्ड का ऐलान

स्पेशल मेंशन- बिरियानी (मलयालम), जोनाकि पोरवा (असमिया), लता भगवानकरे (मराठी), पिकासो (मराठी)