New Financial Year: 1 अप्रैल से बदल जाएंगे ये नियम, आपकी जेब पर पड़ेगा असर

नया वित्त वर्ष 1 अप्रैल 2021 से शुरू होने जा रहा है। इस दिन से कई नए नियम लागू होने जा रहे हैं। कुछ बदलने वाले हैं। new financial year नया वेज कोड लागू होने के अलावा सालाना 2.5 लाख रुपये अधिक पीएफ जमा पर मिला ब्याज टैक्स के दायरे में आएगा।  व्यापारियों के लिए ई-इनवॉयस जरूरी हो जाएगा। इन बदलावों का सीधा असर लोगों की जेब पर पड़ने वाला है।

1 अप्रैल से नया वेज कोड लागू होने जा रहा है। इसका आपकी सैलरी स्ट्रक्चर पर पड़ सकता है। नए वेज कोड में पीएफ और ग्रेच्युटी के तहत जमा होने वाली रकम बढ़ाया जाएगा। इससे आपकी इन हैंड सैलरी कम हो सकती है। new financial year कर्मचारी को दिया जाने वाला भत्ता कुल वेतन से 50 फीसदी से ज्यादा नहीं हो सकता है। इनकम टैक्स के नए प्रावधानों के अनुसार, 1 अप्रैल से कर्मचारी भविष्य निधि में सालाना 2.5 लाख रुपये से ज्यादा के जमा पर मिलने वाला ब्याज अब टैक्स के दायरे में आएगा। 2 लाख रुपये प्रतिमाह से ज्यादा वेतन वाले कर्मचारी इसके दायरे में आ सकते हैं। 

कर्मचारियों की सहूलियत के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को आसान बनाया जा सकता है। आयकर विभाग नए वित्त वर्ष से पहले से भरा आईटीआर फॉर्म मुहैया कराएगा।  1 अप्रैल से 75 साल से अधिक उम्र वाले वरिष्ठ नागरिकों को आईटीआर भरने से छूट दी जाएगी। इसका लाभ उन्हीं को मिलेगा जिनका आय सिर्फ पेंशन और एफडी के ब्याज होती है। रिटर्न भरने को बढ़ाया देने के लिए सरकार ने स्रोत कर कटौती नियमों को सख्त कर दिया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US