अहमद शाह मसूद के बेटे तालिबान से जंग को तैयार, US को बताया आखिरी उम्मीद, मांगे हथियार

पंजशीर का शेर अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद तालिबान से जंग लड़े लिए तैयार हैं। लेकिन इसके लिए उन्हें अमेरिका की मदद चाहिए। हाल में उन्होंने अमेरिका से हथियार मुहैया कराने की अपील की है। मसूद के पिता ने पंजशीर में तालिबान के खिलाफ सबसे बड़ा अभियान चलाया था। उनकी 2001 में हत्या कर दी थी।

Read More…..

Bell Bottom Review: जानिए कैसी है अक्षय कुमार की बेल बॉटम, फिल्म को मिले इतने स्टार

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अमेरिका अभी भी लोकतंत्र का सबसे बड़ा शस्त्रागार हो सकता है। उन्होंने लिखा कि पंजशीर से उन मुजाहिदीन लड़ाकों के साथ अपने पिता के पद चिन्हों पर चलने के लिए तैयार हूं जो एक बार फिर तालिबान का सामना करने के लिए तैयार है। 1990 का गृह युद्ध में से लेकर अब तक मशहूर पंजशीर आज भी अजेय है। सोशल मीडिया पर जारी तस्वीरें बताती है कि उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह और मसूद के बीच मुलाकात हुई थी।

ऐसे लग रहा है कि दोनों मिलकर तालिबान के खिलाफ गुरिल्ला अभियान की तैयारी कर रहे हैं। लेकिन अधिक हथियार और गोला बारूद की जरूरत पड़ेगी। मसूद का कहना है कि तालिबान का खतरा सीमा पार भी है। अहमद मसूद ने तालिबान के खिलाफ सेनानियों के समर्थन का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि तालिबान से एक बार फिर से निपटने के लिए तैयार हैं लेकिन उनके पास जो गोला बारूद है वह लंबी लड़ाई के लिए पर्याप्त नहीं है। मसूद ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अफगानिस्तान के साथ नहीं है। अब हमारे सामने संघर्षों से बना इतिहास है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=U