Parambir Singh letter case: गृहमंत्री अनिल देशमुख पर इस्तीफे का दबाव, शरद पवार का फैसला आज

एंटीलिया केस को लेकर महाराष्ट्र की राजनीति गरमाई हुई है। इस बीच मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा। इसके बाद से महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर इस्तीफे का दबाव बढ़ गया है। विवादों से घिरे देशमुख की किस्मत पर आज फैसला हो सकता है। एनसीपी चीफ शरद पवार को यह तय करना है कि अनिल देशमुख पद पर रहेंगे या नहीं?

देशमुख पर मुंबई पुलिस के सस्पेंड पुलिसकर्मी सचिन वझे को 100 करोड़ का टारगेट देने का आरोप लगा है। वहीं सचिन वझे और मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक रखवाने के मामले में फंसे हैं। रविवार देर रात शरद पवार के साथ दिल्ली में एनसीपी नेताओं की बैठक के बाद जयंत पाटिल ने कहा कि अनिल देशमुख के इस्तीफे का सवाल ही नहीं उठता। एंटीलिया केस को लेकर NIA की जांच में खुलासा हुआ है कि मामले की साजिश पुलिस हेडक्वार्टर और असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वझे के ठाणे स्थित घर पर रची गई थी।

पुलिस मुख्यालय में स्कॉर्पियो के मामले मनसुख हिरेन का पहले से ही आना-जाना था। यहां से NIA को एक वीडियो रिकोर्डिंग भी मिली है। इस फुटेज में सचिन वझे और मनसुख एक ही कार में बैठकर जाते दिख रहे हैं। बता दें कि मुकेश अंबानी के घर के पास जिलेटिन से लदी स्कॉर्पियों के मामले में सचिन वज़े की गिरफ्तारी को लेकर मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह  को पद से हटा दिया गया है। परम बीर सिंह ने असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वजे को संवेदनशील मामलों की जांच में शामिल करते थे।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US