भारत को मिल सकती है चौथी Covid19 Vaccine, मंजूरी के लिए बातचीत कर रही फाइजर

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहे भारत को चौथी कोरोना वैक्सीन मिल सकती है। दुनिया की सबसे कारगर वैक्सीन बनाने वाली कंपनी फाइजर लगातार  भारत के संपर्क में बनी हुई है। कोरोना वैक्सीन को भारत में मंजूरी दिलाने के लिए वह बातचीत करने में लगी हुई है। बता दें कि फाइजर  अमेरिकी वैक्सीन निर्माता कंपनी है जो अब भारत आने के लिए अपने कदम बढ़ा रही है। एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ फाइजर का टीका सबसे कारगर साबित होगा।

Read More…..

Oxygen Shortage in Karnataka: कर्नाटक में ऑक्सीजन की कमी से 24 की मौत, मैसूर से समय पर नहीं पहुंची सप्लाई

इस टीके ने अपने सभी ट्रायलों में कोरोना संक्रमण के खिलाफ 92 से 95 फीसदी तक की क्षमता दिखाई थी। भारत में कोरोना संक्रमण के आंकड़े तेजी के साथ बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के हालात काबू से बाहर हो गए हैं। ऐसे में भारत सरकार टीकाकरण को कोरोना महामारी से निपटने के सबसे बड़े हथियार के तौर पर देख रही है। फिलहाल भारत में कोवैक्सीन और कोविशील्ड उपलब्ध है।

रूस की स्पूतनिक-5 को आपातकालीन मंजूरी मिल गई है। 1 मई से 18+ लोगों को कोरोना वैक्सिनेशन शुरू हो चुका है। हालांकि, कई राज्यों ने एक मई से टीकाकरण अभियान को शुरू नहीं करने की बात कही है। इसकी वजह कोरोना वैक्सीन की कमी को बताया गया है। फाइजर की वैक्सीन के भारत आने से पहले कंपनी ने शर्त रखी है। फाइजर का कहना है कि वो अपनी कोविड-19 वैक्सीन केवल सरकारी कॉन्ट्रैक्ट के माध्यम से ही देगी। यानी ये वैक्सीन देश के प्राइवेट अस्पतालों को तब तक नहीं मिल सकती जब तक सरकार इन निजी अस्पतालों को फाइजर की ये वक्सीन नहीं देती है। 

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US