Bengal Election 2021: पुरुलिया से TMC पर गरजे PM मोदी, बोले-ममता दीदी को सता रहा हार का डर

पश्चिम बंगाल के सियासी घमासान में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मोर्चा संभाला है। उन्होंने पुरुलिया की रैली में अपने भाषण की शुरूआत बांग्ला भाषा में की। उन्होंने कहा कि ममता दीदी को बंगाल के लोगों के हितों से ज्यादा खेल की चिंता लगी है। लेकिन दीदी यह भूल गई कि इस बार बंगाल की जनता खुद उनके खिलाफ खड़े हैं। 10 साल की दूरनीति की सजा लोग उन्हें देकर रहेंगे।

पीएम ने कहा कि दस साल के तुष्टिकरण के बाद लोगों पर लाठियां डेंडे चलवाने के बाद अब ममता दीदी अचानक बदल गई है। यह हार का डर है। दीदी यह सब करते रहिए हर तरह से खेलते रहिए लेकिन बंगाल की जनता सबक सिखाकर रहेगी। यहां पहले वामपंथियों और फिर तृणमूल की सरकार ने उद्योगों को नहीं पनपने दिया। ममता सरकार ने पुरुलिया को जलसंकट, पलायन और भेदभाव भरा शासन दिया है। दीदी यहां के लोग आपसे जवाब मांग रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल में जब डबल इंजन की सरकार बनेगी, तब यहां विकास भी होगा और आपका जीवन भी आसान बनेगा। नंदीग्राम रैली के दौरान ममता बनर्जी के घायल होने के बाद पीएम मोदी का यह पहला बंगाल दौरा है। इस दौरान बीजेपी ने अपनी चुनावी रणनीति में भी बदलाव किया है। अब बीजेपी नेता ममता पर निजी हमले के बजाय सरकार की नाकामियों को गिनाया जाएगा।

बीजेपी पहले चरण के चुनाव को लेकर माहौल को अपने पक्ष में बनाने की कोशिश में लगी है। बंगाल के पहले चरण में 30 सीटों पर 27 मार्च को वोटिंग होनी है। राज्य की 294 सीटों पर बंगाल में 8 चरणों में मतदान होगा।