Rajasthan में लॉकडाउन की नई गाइडलाइन, दुकान खुलने का घटाया समय, जानिए क्या रहेगी सख्ती

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है। चारों तरफ मदद की गुहार लग रही है। कोरोना को लेकर मचे हाहाकार के बीच स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई हैं। अस्पतालों में कहीं बेड की कमी पसरी है तो कहीं ऑक्सीजन नहीं मिलने से मरीजों की सांसे उखड़ रही है। इस बीच कोरोना प्रकोप के मद्देनजर कर्फ्यू को लेकर राजस्थान सरकार सख्त हो गई है। गृह विभाग ने नई गाइडलाइन जारी कर जरूरी सामान की सभी दुकानों को खोलने का समय घटा दिया है। अब अनुमति प्राप्त दुकानें सुबह केवल चार घंटे ही खुल सकेंगी।

25 अप्रैल से नई गाईडलाउन लागू हो जाएगी। 26 तारीख से निजी वाहनों से एक जिले से दूसरे जिले में यात्रा पर सख्त पाबंदी रहेगी। केवल बसें चल सकेगी। बसों में भी 50 फीसदी यात्री ही बैठ सकेंगे। इमरजेंसी सेवाओं और चुनिंदा दफ्तरों को छोड़कर सभी कार्यालय बंद रहेंगे। अगर किसी दफ्तर में कोरोना पॉजिटिव कोई कर्मचारी पाया जाता है तो उस कार्यालय को 72 घंटे के लिए सील कर दिया जाएगा। दरअसल, आपातकालीन सेवाओं (वन्य जीव विभाग, आयुर्वेद विभाग, पशुपालन विभाग, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग) सरकार से अनुमति प्राप्त दफ्तर 4 बजे तक खुलेंगे।

राजस्थान सरकार की नई गाइडलाइऩ में क्या…..

किराना और खाद्य साग्री से जुड़ी दुकानों को सोमवार से शुक्रवार सुबह 6 से 11 बजे तक खोला जा सकेगा। शनिवार और रविार को सुबह 6 से शाम 5 बजे खोलने की अनुमति है।

डेयरी सहित दूध के कियोस्क को सुबह 6 से 11 और शाम 5 से 7 बजे खोलने की अनुमति होगी।

25 अप्रैल से सभी मंडियां, फल सब्जी की दुकानों, ठेलों को सुबह 6 से 11 बजे तक ही खोलने की अनुमति होगी।

कृषि से जुड़े सामानों की दुकानें सोमवार और गुरुवार को सुबह 6 से 11 बजे तक खुल सकेंगी।

निजी वाहनों को सुबह 7 से दोपहर 12 बजे तक ही डीजल-पेट्रोल, गैस मिलेगी।

सार्वजनिक परिवहन, माल ढुलाई वाहनों को पहले की तरह डीजल-पेट्रोल मिलता रहेगा।

शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक पूर्ण रूप से वीकेन्ड कर्फ्यू रहेगा। वीकेंड पर आपातकालीन सेवाओं को छोड़ सब बंद रहेगा।