Rajsathan News: Lockdown के 5 दिनों में कोरोना के 61 फीसदी बढ़े केस, RUHS में सभी बेड फुल, उदयपुर में ऑक्सीजन खपत में तेजी

कोरोना को काबू में करने के लिए गहलोत सरकार ने राजस्थान में लॉकडाउन लगाया लेकिन संक्रमण की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही है। लेकिन दूसरी लहर में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चरमरा गई है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, लॉकडाउन लगने के बाद 5 दिन में राज्य में संक्रमण 61 फीसदी बढ़ा है। कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा करीब दोगुना हो गया है।

Read More……

Coronavirus: देश के 3 डॉक्टरों की राय, Remdesivir रामबाण नहीं, काफी कम मरीजों को इसकी जरूरत

पहली लहर में गहलोत सरकार ने सिर्फ 12 शहरों में कर्फ्यू लगाया था। तब फैसला लागू होने के सात दिन में संक्रमण में 20 फीसदी की गिरावट आई थी। प्रदेश के अस्पतालो के बेड 10 दिन में फुल हो गए हैं। राजस्थान के सबसे बड़े कोविड RUHS अस्पताल में 15 अप्रैल तक आधे बेड भरे थे। लेकिन पिछले 6 दिन में सारे बेड फुल हो गए हैं। RUHS के हालात ये है कि यहां ना तो ICU बेड खाली हैं और ना ही वेंटिलेटर।

जोधपुर में कोरोना वायरस से सबसे ज्याद मौतें हो रही है। यहां पिछले तीन दिन में 55 लोगों की जान चली गई। अस्पतालों में कोरोना मरीजों का लोड बढ़ता जा रहा है। आस-पास के छोटे शहरों और दूसरे जिलों से भी मरीज यहां रैफर हो रहे हैं। बता दें कि कोरोना से प्रदेश के प्रमुख बड़े शहरों में कोरोना को लेकर हाहाकर मचा है। जयपुर, उदयपुर, जोधपुर और कोटा में कोविड अस्पतालों के बेड फुल हो गए हैं। ऑक्सीजन और बेड की कमी के कारण मरीज भटक रहे हैं। सरकार से लेकर निजी अस्पातलों पर दबाव इस कदर बढ़ा है कि कोई भी कुछ बेहतर कर पाने की स्थिति में नहीं है। 

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US