RBI का हेल्थ सेक्टर को 50 हजार करोड़ का बूस्टर डोज, SBF को 10 हजार करोड़ का TLTRO

कोरोना की दूसरी लहर के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बड़ा ऐलान किया है। इस बार आरबीआई ने अपने खजाने को हेल्थ सेक्टर और स्मॉल फाइनेंस के लिए खोला है। हेल्थ सेक्टर को 50 हजार करोड़ रुपये के बूस्टर डोज का ऐलान किया है। वहीं दूसरी तरफ स्मॉल फाइनेंस बैंकों के लिए 10 हजार करोड़ रुपये का टीएलआरटीओ लाने का ऐलान किया है। इस दौरान आरबीआई गवर्नर ने कहा कि कोरोना महमारी की दूसरी लहर ने एक बार फिर से देश की अर्थव्यवस्था पर गहरा असर डाला है।

Read More…..

Bengal Violence: बंगाल हिंसा मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, CBI जांच और राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

ग्लोबल इकोनॉमी में रिकवरी के संकेत मिले हैं। वहीं दूसरी तरफ स्थानीय स्तर पर बेहतर मानसून रहने से ग्रामीण मांग में बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इमरजेंसी हेल्थ सर्विस के लिए 50,000 करोड़ रुपये देने का प्रावधान है। वहीं स्मॉल फाइनेंस बैंको के लिए 10,000 करोड़ का TLTRO लाया जाएगा। इनके लिए 10 लाख प्रति बॉरोअर की सीमा तय की है।

31 मार्च 2022 तक टर्म सुविधा मिलेगी। इसके अलावा 35 हजार करोड़ की गर्वमेंट सिक्योरिटी की खरीद का दूसरा चरण 20 मई से शुरू होगा। आरबीआई ने लोन मेराटोरियम पर चुप्पी साधी है। इस मामले को लेकर आरबीआई की ओर से सरकार पर दबाव बनाया जा रहा था कि लोन मोराटोरियम लागू किया जाए। लेकिन केंद्र सरकार ने लॉकडाउन लगाने के कोई संकेत नहीं दिए हैं। जिन राज्यों में लॉकडाउन जैसी सख्त पाबंदिया लगाई गई है वो राज्य सरकारों ने लगाया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US