Mansukh Hiren Murder Case: NIA ने सचिन वझे की 7वीं कार की बरामद, इसी में हत्या का शक

एंटीलिया केस में जांच कर रही एनआईए ने मंगलवार को नवी मुंबई के कमोठे क्षेत्र से एक कार बरामद की है। इस कार का उपयोग सचिन वाझे का सहकर्मी API प्रकाश ओवल कर रहा था। NIA को शक है कि इस कार में ही मनसुख हिरेन की हत्या की गई थी। एंटिलिया केस में अब तक बरामद की गई 7 कारों में से यह पहली कार है जो सचिन वझे के नाम पर पंजिकृत है। इस कार को 2011 में रिजस्टर्ड कराया गया था।

मीठी नदी से रविवार को बरामद लैपटॉप को लेकर खुलासा हुआ है कि यह लैपटॉप सचिन वझे का है। हालांकि इसके अन्दर का सारा डाटा डिलीट है। मीठी नदी में मिले सबूतों की जांच पुणे से आई CFSL की टीम कर रही है।  इधर, बॉम्बे हाईकोर्ट में मंगलवार को महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका पर सुनवाई हुई।  परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख पर हर महीने 100 करोड़ रुपये की वसूली करने का आरोप लगाया है। इस मामले में कोर्ट अब बुधवार को फिर से सुनवाई करेगी।

 इस बीच महाराष्ट्र सरकार ने देर शाम को इसी मामले में जांच के लिए रिटायर्ड जस्टिस कैलाश उत्तमचंद चांदीवाल की अध्यक्षता में हाईलेवल कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी 6 महीने में राज्य सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। मुम्बई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपए की उगाही का आरोप लगाया था। इसके बाद से शिवसेना और एनसीपी में खटपट बढ़ गई है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US