Antilia Case में बड़ा खुलासा, सचिन वझे के वसूली कारोबार में बड़े अफसर भी हिस्सेदार, NIA को मिले सबूत

एंटीलिया और मनसुख हिरेन मर्डर केस की जांच कर रही NIA को कई नए सबूत मिले हैं। ये सबूत निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वझे के वसूली के कारोबार से जुड़े हैं। NIA के अनुसार, वसूली के मामले में पुलिस और प्रशासन के कुछ बड़े अधिकारी भी शामिल थे। सचिन वझे ने इन अफसरों को पेमेंट किया था। अब इस भुगतान के दस्तावेज NIA के हाथ लगे हैं। गिरगांव में एक क्लब पर डाली गई रेड के दौरान एनआईए के हाथ ये सबूत लगे हैं।

Read More…..

#RafaleScam: राफेल सौदे में हुआ भ्रष्टाचार , फ्रेंच मीडिया रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

इन दस्तावेजों में बताया गया है कि किस डिपार्टमेंट और अफसर को एक महीने में सचिन वझे ने कितना पेमेंट किया था। हर नाम के सामने पेमेंट की रकम लिखी हुई है। कई पेमेंट करोड़ों में हैं। एनआईए के अनुसार, ये रिश्वत की रकम हो सकती है। इन अफसरों में दो निरीक्षक, एक पुलिस उपायुक्त और एक डिप्टी कमिश्नर लेवर का पूर्व अधिकारी भी शामिल हैं। इनमें से तीन से NIA पूछताछ कर चुकी है। 

NIA इन दस्तावेजों को ED, CBI और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से साझा कर सकती है। बता दें कि हाल के दिनों में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली का आरोप लगाया था। परमबीर सिंह ने हाल में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में आरोप लगाया था कि गृह मंत्री अनिल देशमुख पुलिस अधिकारियों से प्रतिमाह 100 करोड़ रुपये वसूली के लिए कहते थे। वसूली के मामले को लेकर पूर्व सीएम और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने शरद पवार पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US