Surya Grahan 2021: सूर्य ग्रहण से दुनिया में मचने जा रही उथल-पुथल? इन देशों में हो सकती है जंग

इस साल का पहला सूर्य ग्रहण आज है। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार, इस सूर्य ग्रहण का दुनिया के कई देशों पर काफी प्रभाव पड़ेगा। वर्ष 2021 का यह पहला सूर्य ग्रहण भरात में अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों और लद्दाख में ही आंशिक तौर से नजर आएगा। सूर्य ग्रहण गुरुवार दोपहर 1.42 बजे से शुरू होकर 6.41 बजे तक चलेगा। गुरुवार को उत्तरी गोलार्ध के कुछ हिस्सों में रिंग ऑफ फायर  के तौर पर सूर्य ग्रहण देखने को मिलेगा। कुछ देशों में आंशिक सूर्य ग्रहण भी नजर आएगा।

सूर्य ग्रहण के दौरान चंद्रमा किनारों के चारों तरफ एक वलय को छोड़कर सूर्य के ठीक सामने चलता है। इससे ‘रिंग ऑफ फायर’ लुक बनता है। भारत में भी सूर्य ग्रहण से परेशानी के हालात बन सकते हैं। दरअसल, भारत देश की लग्न कुंडली में यह ग्रहण पड़ रहा है। इसका सीधा असर सातवें भाव पर पड़ता है। अरुणाचल और कश्मीर में पिछले दिनों चंद्र ग्रहण नजर आया था लेकिन अब सूर्य ग्रहण भी लग रहा है। तो अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, असम और कश्मीर में संकट की स्थिति पैदा हो सकती है।

ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार, आने वादे 45 दिनों से 90 दिनों में चीन और अमेरिका के बीच युद्ध के हालात बन सकते हैं। युद्ध की तनावपूर्ण स्थिति दुनिया के सेंटर में देखी जाती है। ज्योतिष विद्यों का कहना है कि इन दोनों देशों के बीच फिर से जंग की स्थिति बन सकती है। हालांकि, भारत अपनी अंतरराष्ट्रीय नीति से युद्ध जैसे हालातों पर काबू पाने में सफल साबित होगा।