SBI की रिपोर्ट में खुलासा, शहरों के साथ गांवों में भी बढ़ेगा कोरोना

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की शुक्रवार को जारी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि दिसंबर 2021 तक देश में कोरोना वैक्सीन की 113.2 करोड़ डोज लोगों को दी जा चुकी है। देश के 15 फीसदी लोगों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। करीब 84 फीसदी लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दे पाना संभव हो सकेगा।

Read More…………

Covid19 India: देश में कोरोना का नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में आए 3.32 लाख नए मरीज, 2256 की मौत

एक अनुमान के अनुसार, मई महीने के तीसरे सप्ताह में कोरोना की दूसरी लहर का सर्वोच्च सामने आ सकता है। रिपोर्ट के अनुसार, पूरे देश को कोरोना वैक्सीन लगाने में आया खर्च पूरे देश की जीडीपी का करीब 0.1 फीसदी के करीब हो सकता है। अगर कोरोना महामारी के कारण देश में लॉकडाउन लगा तो यह नुकसान कई गुना हो सकता है। देश के कई हिस्सों में लगे नाइट कर्फ्यू और लॉकडाउन के कारण अब तक जीडीपी के 0.7 फीसदी के नुकसान का आकलन है।

पीएम मोदी की अध्यक्षता में गुरुवार को हाई लेवल मीटिंग में 18+ के लोगों को कोरोना वैक्सीन लागने का फैसला किया गया था। इसके लिए अब रजिस्ट्रेशन के लिए तारीख तय हो गई है। फिलहाल देश में 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना वैक्सीन के डोज लगाए जा रहे हैं। कोरोना मरीजों की बढ़ती तादाद से स्वास्थ्य सेवाएं तक चरमरा गई। कई राज्यों में ऑक्सीजन की कमी से अस्पतालों में मरीजों की जान सांसत में है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा है। सुप्रीम कोर्ट ने देशभर के अस्पतालों में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, बेड और जरूरी दवाओं की किल्लत के मद्देनजर नोटिस लिया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US