Night Curfew के बाद सता रहा लॉकडाउन का डर? CMs संग बैठक के बाद क्या बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को देखते हुए गुरुवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। इस मीटिंग के बाद पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कोरोना संक्रमण की अचानक बढ़ोतरी पर चिंता जाहिर की। साथ ही कहा कि कोरोना पर काबू पाने के लिए यूद्ध स्तर पर काम करने की जरूरत है। अगले तीन हफ्ते एहतियात बरतने की बेहद जरूरी है। पीएम ने स्पष्ट कहा कि इस समय संपूर्ण लॉकडाउन की जरूरत नहीं है और नाइट कर्फ्यू ही लोगों में जागरुकता लाने के लिए काफी है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने बिना वैक्सीन के पहली लहर को काबू में किया था।अब तो हम ज्यादा संसाधनों से युक्त है तो कोरोना की दूसरी लहर को काबू करने में ज्यादा दिक्कत नहीं है। बस हमें कोरोना प्रबंधन पर जोर देना होगा और सारे एसोपी का पालन करना होगा।पीएम ने कहा कि एक साल पहले जब लॉकडाउन लगाना पड़ा था तब हमारे पास संसाधनों की कमी थी लेकिन आज हमारे पास सारी व्यवस्थाएं है तब हमें इस हालात पर काबू पाने के लिए माइक्रो कंटेंटमेंट जोन पर जोर देना होगा।

दो दिन पहले ही पीएम मोदी ने कोरोना को लेकर बैठक की थी। कोरोना की दूसरी लहर के साथ ही वैक्सीन को लेकर राजनीति गरमा गई है। पीएम नरेंद्र मोदी मुख्यमंत्रियों से वैक्सीनेशन पर चर्चा करेंगे। हाल में शुक्रवार को कैबिनेट सचिव, राजीव गौबा के साथ हुई मीटिंग में 11 राज्यों को उनके बढ़ते दैनिक कोरोना के मामलों पर गंभीर चिंता जताई थी। सबसे ज्यादा महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, केरल, गुजरात, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली में कोरोना से हालात बदतर बने हुए हैं।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US