India vs Ingland 4th T20i: सबूतों के अभाव की बलि चढ़े सूर्यकुमार, अंपायर्स पर लागू होंगे ये नियम

सूर्यकुमार यादव ने 18 मार्च 2021 को अपनी पहली अंतरराष्ट्रीय पारी खेलते हुए 31 गेंद में 57 रन बना डाले। उन्होंने करियर की पहली गेंद का छक्का लगाकर नाम दर्ज कराया था। उन्होंने 28 गेंद में अर्धशकत पूरा कर लिया था। सैम करन ने 14वें ओवर की दूसरी गेंद पर उन्हें आउट किया। डेविट मलान ने उके कैच को पकड़ा था। हालांकि, टीवी स्क्रिन पर साफ नजर आ रहा था कि गेंद मलान के हाथ में आने से पहलरे ही जमीन को छू गई थी लेकिन अंपायर के सॉफ्ट सिग्नल के कारण सूर्यकुमार यादव को पवेलियन लौटना पड़ा।

इस तरह से सूर्यकुमार यादव को आउट दिए जाने से विराट कोहली काफी नाराज दिखे। उन्होंने मैच के बाद अंपायर्स के लिए मुझे नहीं पता नियम लागू करने की मांग उठाई है। विराट कोहली ने कहा कि जब अंपायर्स के पास आउट या नॉकआउट देने का अधिकार है तो उनके पास ‘उन्हें नहीं पता’ इस्तेमाल कनरे का विकल्प क्यों नहीं है।

विराट ने कहा कि सॉफ्ट सिग्नल काफी अहम हो गया है। यहा काफी ट्रिपी है। मुझे समझ नहं आता कि अंपायर के पास “मुझे नहीं पता” फैसला सुनाने का विकल्प क्यों नहीं हो सकता है? इस तरह के फैसले मैच का रिजल्ट बदल सकते हैं। हम चाहते हैं कि इसे खेल से बार किया जाना चाहिए ताकि चीजें आसान हो सकें। क्या कहता है नियम- थर्ड अंपायर को संदेहास्पद कैच के फैसले रेफर करने के मामले को लेकर आईसीसी का नियम कहता है कि ग्राउंड अंपायर के सॉफ्ट सिग्नल को तभी पलटा जा सकता है। जब रिप्ले से इसके सबूत मिल सकें।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US