Good Friday 2021: प्यार और बलिदान का दिन गुड फ्राइडे आज, प्रभु यीशु की होगी पूजा

ईसाई समुदाय का महत्वपूर्ण दिन Good Friday आज मनाया जाएगा। इस दिन प्रभु यीशु ने विरोध व यातनाएं सहते हुए प्राण त्यागे थे। उन्हें क्रूस पर चढ़ाया गया था। इस दिन ईसाई समुदाय के लोग चर्च में क्रूस की पूजा अर्चना करेंगे। माना जाता है कि प्रभु यीशु ने मानव कल्याण के लिए अपनी जन दी थी। इस वजह से इस दिन को गुड कहकर संबोधित करते हैं। good friday message उस दिन शुक्रवार होने के कारण इसे गुड फ्राइडे कहा जाता है। इस दिन को प्रभु यीशु के बलिदान दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

Read More….

Sheetla Ashtami 2021: जानिए शीतला माता को क्यों लगाया जाता है ठंडे पकवानों को भोग

प्रभु ईसा मसीह के बलिदान दिवस को गुड कहने के पीछे कारण ये माना जाता है कि ऐसी मान्यता है कि प्रभु यीशु ने अपनी मृत्यु के बाद फिर से जीवन धारण किया था। यह संदेश भी दिया था कि वह हमेशा मनुष्यों के सात हैं और उनकी भलाई करना ही उनका प्रमुख उद्देश्य है। ईसा मसीह के बलिदान दिवस को एक पवित्र समय भी माना जाता है और इसलिए भी इस दिन को गुड फ्राइडे कहा जाता है।

यरुशलम में 2000 साल पहले ईसा मसीह लोगों को अहिंसा और मानव कल्याण का उपदेश दे रहे थे। इससे प्रभावित होकर कई लोग उन्हें ईश्वर का रूप मानने लगे। लेकिन धार्मिक अंधविश्वास फैलाने वाले कुछ धर्मगुरू उनसे चिढ़ने लगे और ईसा मसीह की शिकायत रोम के शासक पिलातुस से कर दी गई। शिकायत के बाद ईसा मसीह पर राजद्रोह और धर्म अवमानना का भी आरोप लगाया गया। इन गंभीर आरोपों के चलते यीशु को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें कोडें चाबुक से मारा गया। कांटों का ताज पहनाया गया और फिर कीलों से ठोकते हुए उन्हें सूली पर लटका दिया गया। लेकिन प्रभु यीशु ने दोबारा जन्म ले लिया था।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US