Oxygen Crisis: सुप्रीम कोर्ट ने गठित की राष्ट्रीय टास्क फोर्स, ऑक्सीजन वितरण पर रखेगी नजर

कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। कोरोना से हालात भयावह हो गए हैं। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन जैसी सख्त प्रतिबंध लगाए गए हैं। कोरोना की दूसरी लहर ने सरकारों की चिंता बढ़ा दी है। पिछले तीन दिन से 4 लाख मामले सामने आ रहे हैं। अभी तक इसका पीक भी नहीं आया है। इतना ही नहीं वैज्ञानिकों ने कोरोना की तीसरी लहर के लिए चेतावनी दी है।

Read More…..

Coronavirus India: गोवा में 9 से 23 मई तक राज्यव्यापी कर्फ्यू, सीएम सावंत का ऐलान

देश में कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय टास्क फोर्स का गठन किया है। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने अपने आदेश में एक राष्ट्रीय टास्क फोर्स गठित कनरे का आदेश दिया है। यह टास्क फोर्स पूरे देश में ऑक्सीजन की जरूरत और वितरण का आकलन और सिफारिश करने का काम करेगी।

केंद्र और राज्य सरकारें कोरोना के बढ़ते मामलों को रोकने और ऑक्सीजन संकट से निजात पाने के लिए पूरी कोशिश में लगी है लेकिन हालात काबू से बाहर हैं। कोरोना की रफ्तार ने सरकारों की रफ्तार को काफी पीछे छोड़ दिया है। सवाल ये भी है कि अचानक से इतनी ऑक्सीजन की कमी क्यों आ गई। दरअसल, कोरोना फेफड़ों, लंग्स पर अटैक करता है। सांस लेने में तकलीफ होने पर चिकित्सक ऐसे मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखते हैं। ऐसे में ऑक्सीजन की कमी को लेकर कई लोगों की सांसे टूट रही है। सुप्रीम कोर्ट में पिछले कई दिनों से ऑक्सीजन सप्लाई बढ़ाने पर सुनवाई हो रही है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US