Anil Deshmukh के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस, CBI रिपोर्ट को बनाया आधार

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। प्रवर्तन निदेशालाय (ईडी) ने अनिल देश मुख के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। ईडी ने सीबीआई के आधार पर अनिल देशमुख पर यह मामला दर्ज किया है। ईडी सूत्रों ने मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले बताया कि देशमुख के खिलाफ सीबीआई द्वारा पिछले महीने दर्ज की की एफआईआर का अध्यन करने के बाद धन शोधन रोकथाम कानून की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। 

Read More……

Jerusalem Violence: इजरायली हमले में 22 फलस्तीनियों की मौत, यरुशलम में जंग के हालात

प्रवर्तन निदेशालय अब देशमुक और अन्य लोगों को पूछताछ के लिए तलब कर सकता है। बता दें कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई की एफआईआर को चुनौती देने वाली पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की याचिका को खारीज कर दिया था। देशमुख ने हाईकोर्ट की याचिका को लेकर कहा कि अगर जरूरत हुई तो उनके केस के आधार पर हाईकोर्ट की वेकेशन बेंच को स्थानांतरित किया जाएगा। बता दें कि करीब डेढ़ महीने पहले पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखा था।

इस पत्र के जरिए देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली लेने का आरोप लगाया गया था। साथ ही कहा था कि अनिल देशमुख ने मुंबई पुलिस से निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को मुंबई के होटल, रेस्त्रां से 100 करोड़ की उगाही की जिम्मेदारी सौंपी थी।  21 अप्रैल को केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मुंबई और नागपुर में पूर्व मंत्री से संबंधित परिसरों की तलाशी ली थी।इस मामले में उच्च न्यालाय के आदेश के बाद देशमुख ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US