Ram Mandir Land Deal: राम मंदिर भूमि विवाद, ट्रस्ट ने केंद्र सरकार और RSS के भेजी रिपोर्ट

श्रीराम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से संबंधित जमीन सौदे में भ्रष्टाचार के आरोप लगने से कई सवाल खड़े हो रहे हैं। समाजवादी पार्टी के साथ AAP और पूरा विपक्ष राम मंदिर ट्रस्ट, विश्व हिंदू परिषद और संघ परिवार पर राम मंदिर जमीन घोटाले के आरोप लगा रहे हैं। राम मंदिर जमीन की खरीद में घोटाले के आरोपों से ट्रस्ट घिर चुका है।

Read More……

PM मोदी की केंद्रीय मंत्रियों और जेपी नड्डा के साथ बैठक, मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें हुई तेज

अब श्रीराम जन्मभूमि तर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा इस पूरे विवाद पर केंद्र सरकार को रिपोर्ट भेजी गई है। ट्रस्ट ने सभी आरोपों को विपक्षी दलों की साजिश करार दिया है। ट्रस्ट ने केंद्र सरकार के अलावा बीजेपी, RSS को भी रिपोर्ट भेजी है। इस रिपोर्ट में जमीन खरीद को लेकर सभी तरह की जानकारी दी गई है। बताया गया है कि कैसे अलग-अलग दामों पर खरीद की गई है। विपक्षी दलों का आरोप है कि राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने मंदिर के लिए साढ़े 18 करोड़ रुपये में जमीन की खरीद की है। इस जमीन की कीमत सिर्फ 10 मिनट पहले दो करोड़ रुपये थी। विपक्षी दलों का आरोप है कि जमीन खरीद में घोटाला हुआ है।

राजनीतिक दलों ने इसे करोड़ों लोगों की आस्था के साथ धोखा करार दिया है। विपक्षी दलों ने जांच की मांग करते हुए ट्रस्ट के सदस्यों से इस्तीफा मांगा है। जमीन खरीद में गड़बड़ी के जब से आरोप लगने लगे हैं तभी से ट्रस्ट सभी विपक्षी दलों को निशाने पर आ गया है। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बयान जारी कर इन आरोपों को सिरे से खारीज किया है।

खबरों से अपडेट रहने के लिए BADHTI KALAM APP DOWNLOAD LINK: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.badhtikalam.badhtikalam&hl=en&gl=US