रेल कर्मचारी हितों की रक्षा करना ही मजदूर संघ का मुख्य उद्देश्य

गंगापुर सिटी। वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के अध्यक्ष का स्वागत करते रेलवे कर्मचारी।

गंगापुर सिटी। अन्य कर्मचारी संगठनों ने व्यवसायिक गतिविधियों में लिप्त होकर मजदूर आंदोलन को कमजोर किया है। ये विचार मण्डल अध्यक्ष जीपी यादव ने रेल कर्मचारियेा की बैठक के दौरान व्यक्त किए।
वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ मंडल अध्यक्ष जी पी यादव स्वर्ण मंदिर मेल से रेलवे इंस्टीट्यूट चुनावों के मद्देनजर बैठक लेने गंगापुर सिटी पहुंचे। संघ कार्यालय में रेल कर्मचारियों को संबोधित करते हुए जीपी यादव ने कहा कि संगठन का उद्देश्य कर्मचारी हितों की रक्षा होना चाहिए ना कि व्यवसाय करना। मजदूर संघ वह संगठन है जिसने राष्ट्रहित में एकता स्थापित करने में मानव सेवा करने में भारतीय रेल कर्मचारियों के अधिकारों की रक्षा करने में रेल कर्मचारियों के अधिकारों की लड़ाई लडऩे में एवं रेल को बचाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। अकेला व्यक्ति अपनी जरूरत और अधिकारों की रक्षा करने में असमर्थ है क्योंकि अकेले व्यक्ति के पास ताकत, क्षमता, समय का अभाव है लेकिन हम सब संगठित होकर संगठन के माध्यम से अधिकारों को पा सकते हैं। इंस्टीट्यूट चुनाव में पूरी ताकत के साथ एकजुट होकर मजदूर संघ के पैनल को जिताकर इंस्टीट्यूट का विकास करना ही हमारी प्राथमिकता होगी।
संघ प्रवक्ता बीएस गुर्जर ने बताया कि इस मौके पर उप मंडल सचिव डीके शर्मा, केंद्रीय कार्यकारिणी सदस्य पीसी मीणा, केंद्रीय कार्यकारिणी सदस्य राजू लाल गुर्जर, शाखा सचिव आमीन गद्दी, शाखा अध्यक्ष समय सिंह मीणा, शाखा अध्यक्ष जीएल मीणा, मुंशी राम मीणा, घनश्याम मीणा, अशोक मीणा, दीवान सिंह गुर्जर, भंवर सिंह कठेरिया, सतीश कुमार, राजेंद्र प्रसाद, रामसिंह मीणा, शिव प्रकाश गुर्जर, भवानी सिंह राजावत, हरिमोहन मीणा सहित मजदूर संघ के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।