सभी अपनी कॉन्टेक्ट हिस्ट्री अवश्य मैन्टेन करें, कोरोना से लडने में कांन्टेक्ट हिस्ट्री काफी मददगार

मीडिया ब्रीफिंग में जानकारी देते कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक, उपस्थित अधिकारी एवं मीडियाकर्मी।

लोगों में अवेयरनेस बढाई जाए, आपसी सामन्जस्य के साथ एडवाइजरी की पालना करें: कलेक्टर
प्रेस ब्रीफिंग में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने दी जानकारी
सवाई माधोपुर।
कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को घर पर रहकर ही जीता जा सकता है। इस लड़ाई में वही बड़ा योद्धा है जो घर पर रहकर सोशल डिस्टेसिंग की पालना करें। लॉकडाउन के तहत आमजन घर में रहकर एडवाईजरी की पालना करते हुए मेडिकल प्रोटोकाल को फोलो करें। कोरोना को हराना है तो सभी एकजुटता के साथ मिलकर जो जहां है, वहीं रहे। अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकले। लोग अपनी कांन्टेक्ट हिस्ट्री को डायरी में मेंन्टेन करें। लोग घबराएं नहीं, किसी तरह का भ्रम नहीं रखें, जागरूकता रखते हुए सरकारी निर्देशों एवं प्रोटोकॉल की पालना करते हुए लॉकडाउन में अपने घरों पर ही रहे। लोगों में जागरूकता रहे तथा जिन्हें होम क्वारंटाईन किया गया है, वे अपने परिवार तथा सभी के भले के लिए क्वारंटाइन पीरियड की प्रोटोकाल के साथ पालना करें। जिले में फूड चेन नहीं रूके, डोर टू डोर सप्लाई हो, आवश्यक वस्तुओं की निरंतर आपूर्ति रहे, इसके लिए सभी व्यवस्थाएं की गई है। यह बात जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने नियमित मीडिया ब्रीफिंग करते हुए पत्रकारों से कही। कलेक्टर ने कहा कि अनावश्यक घरों से बाहर निकलना अपनी, अपने परिवार की जान जोखिम में डालने के समान है। उन्होंने कहा कि आमजन सही भावना से सरकारी निर्देशों की पालना करें।
कलेक्टर पहाडिया ने मीडिया के माध्यम से सभी का आह्वान किया कि कोरोना को हराना है तो हमें सोशल डिस्टेसिंग रखते हुए प्रोटोकाल का पालन करना होगा। उन्होंने बताया कि जिले में 20 हजार से अधिक लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है। होम क्वारंटाईन किए गए लोगों की निगरानी एवं मॉनिटरिंग की जा रही है। उपखंड एवं पंचायत स्तर पर मॉनिटरिंग एवं कोर कमेटियां गठित की गई जो लगातार कार्य कर रही है। पंचायत स्तर पर गठित कमेटी की हर दूसरे दिन बैठक भी हो रही है। पूरे जिले में कोरोना वालंटियर्स बहुत अच्छा कार्य कर रहे है। कलेक्टर ने कहा कि गली मोहल्लों में सब्जी एवं अन्य आवश्यक सामग्री बेचने जाने वाले रेहडी-फेरी वालों को  भी अनिवार्य रूप से मास्क लगाना होगा।
कलेक्टर ने बताया कि पडोस के सभी जिलों में कोरोना पॉजिटिव मिले है, ऐसे में सभी लोग पूरी सतर्कता बरतते हुए प्रशासन की एडवाइजरी का पालन करे। हमारे जिले में कोरोना को नहीं घुसने देने के लिए जिले की सीमा को सील किया हुआ है। कलेक्टर ने बताया कि किराना, दवा, दूध आदि की होम डिलीवरी को लगातार बढाया जा रहा है। आवश्यकता की हर वस्तु लोगांे को घर तक पहुंचे। इसके प्रयास किए जा रहे है। जिले में किसी भी सामग्री की कोई कमी नहीं हैं। आवश्यक वस्तुएं सभी को उपलब्ध हो रही है। निशक्त, बेसहारा, जरूरतमंदों की सूची तैयार कर ली गई है। इन्हें 1000 एवं 15 सौ रूपए की सहायता राशि खातों में जमा की रही है। जिले में खाने के सूखे सामान के 14 हजार एवं भोजन के 1 लाख दो हजार से अधिक पेैकेट भी जरूरतमंदों को वितरित किए जा चुके है।
कलेक्टर ने मीडिया के माध्यम से आग्रह किया कि लोगों को सही जानकारी मिले, लोग डरे नहीं, जागरूक रहे। कलेक्टर ने बताया कि कोरोना से लडने के लिए तीन टी अर्थात ट्रेस, ट्रेप एवं ट्रीटमेंट के आधार पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने पुलिस एवं मेडिकल टीमों की हौंसला अफजाई तथा लोगों को जागरूक करने के लिए मीडिया का आग्रह किया।
सभी कांटेक्ट हिस्ट्री करें मेन्टेन:- पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने कहा कि जागरूकता के साथ सावधानियां भी जरूरी है। लोग बाहर निकलते है तो कांन्टेक्ट हिस्ट्री अवश्य मेन्टेन करें। कोरोना से लडने के लिए कांन्टेक्ट हिस्ट्री के संबंध में लोग जागरूक हो। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के सावधानी आवश्यक है। उन्होंने बताया कि क्वारंेंटाईन किए गए लोगों की राज कोविड एप से निगरानी के संबंध में भी जानकारी दी।
अनावश्यक घरों से नहीं निकले:- कलेक्टर ने बताया कि लोग अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकले। आवश्यक रसद सामग्री की सप्लाई, सब्जी आदि का विक्र्रय घरों तक करवाया जा रहा है। इमरजेंसी हो तो ही वाहन से बाहर आए या पास वाले ही अलाउ होंगे। ऐसा नहीं होने पर वाहन व उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसी प्रकार सामानों की रेट निर्धारित की गई है। कोई भी ओवरप्राइसिंग नही करें, अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आटा, दाल तेल मिल खुलेगी तथा इसके लिए निर्देश भी दिए गए है।
कोई भूखा नहीं सोए, की गई है पूरी व्यवस्था:- कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने बताया कि लॉकडाउन के चलते कोई भी गरीब, असहाय, दिहाड़ी मजदूर या अन्य भूखा नहीं सोए। इसके लिए पूरी व्यवस्था की गई है। जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमन्द एवं निराश्रित व्यक्तियों को भोजन के लिए सूखी सामगी के पैकेट उपलब्ध करवाए जा रहे है। वहीं भोजन के पैकेट एवं सूखी राशन सामग्री के किट भी वितरित किये जा रहे है।
जिले में 20 हजार से अधिक को होम क्वारंेटाइन, 227 की सेंपल जांच:- सीएमएचओ डॉ. तेजराम मीना ने बताया कि जिले में 20 हजार 251 लोगों को होम क्वारेंटाइन कर उनकी निगरानी की जा रही है। उनकी लगातार मॉनिटरिंग भी की जा रही है। जिले में अब तक 227 लोगों की सेंपलिंग की गई है। जिसमें से 203 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जो निगेटिव मिली। 24 जनों की रिपोर्ट अभी आनी शेष है। जिले में 12 लाख से अधिक लोगों का सर्वें किया जा चुका है।
अफवाह फैलाने या भ्रामक सूचनाओं पर कार्रवाई:- पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने बताया कि कोई भी व्यक्ति, संस्था सोशल मीडिया या अन्य माध्यम से भ्रामक सूचना या अफवाह फैलाते है तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि सूचना प्रसारित करने से पूर्व उसकी सत्यता की जांच संबंधित से कर ली जाए। कोई भी भ्रामक अथवा अफवाह फैलानी वाली पोस्ट पर कार्रवाई की जाएगी। पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने कहा कि लॉकडाउन की पालना स्ट्रीक्टली करवाई जा रही है। गांवों में भी वॉलंटियर्स को जोड़ा जा रहा है। जिले मेें 56 नाका पॉइंट बनाकर जिले को पूरा सील किया गया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जिले में 700 से अधिक कोरोना वालंटियर्स बनाए गए है। लोगों का भी जुडाव बढाकर सोशल डिस्टेसिंग की पालना करवाई जा रही है। जिले के लोगों की जागरूकता से ही हम अभी तक सेफ है। उन्होंने बताया कि नाके पर लगाए गए पुलिस कार्मिकों को भी मेडिकल एडवाईजरी, मास्क का निस्तारण आदि के बारे में प्रशिक्षण देकर समझाया भी गया है। जिला मुख्यालय पर ड्रोन से भी मॉनिटरिंग की जा रही है। नाकों पर पुलिस के साथ प्रशासन एवं मेडिकल टीम के लोग भी रहेंगे। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि हर आदमी अपनी कांन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए नोटबुक बनाकर रखे।
सफाई पर विशेष जोर:- कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने पत्रकार वार्ता में बताया कि नगर परिषद सवाई माधोपुर एवं गंगापुर पर नियमित सफाई पर विशेष जोर दिया जा रहा है। कचरा निस्तारण, नालियों की सफाई, सोडियम होइपो क्लोराइड का स्प्रे करवाने के निर्देश दिए गए है। उन्होंने मीडिया के माध्यम से लोगों से भी सफाई के संबंध में जागरूक रहने, बार बार हाथ धोने के लिए आग्रह किया।
नियंत्रण कक्ष पर दें सूचना:- जिला कलेक्टर ने बताया कि जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष दूरभाष नंबर क्रमशः 07462-220201 व सीएमएचओ कार्यालय में 07462-235011 पर है। आमजन इस नंबर पर कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी सूचना प्राप्त कर सकते हैं एवं सूचना दे सकते हैं। इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक स्तर पर 07462-222999, उपखंड स्तर पर भी नियंत्रण कक्ष संचालित है। चौथ का बरवाड़ा में नियंत्रण कक्ष के लिए एसडीएम कार्यालय का फोन नंबर 07462-257001, खंडार में नियंत्रण कक्ष का नंबर 07468-241124, मलारना डूंगर में 07466-272098, बौंली में 07466-247245, सवाई माधोपुर में 07462-221555, गंगापुर 07463-234030, बामनवास में 9414424400 भी संचालित है। नियत्रंण कक्ष पर संपर्क कर आमजन कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी सूचना प्राप्त कर सकते हैं एवं सूचना दे सकते हैं।
पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश कुमार, आरसीएचओ डॉ. कमलेश मीना, पीएमओ डॉ. बीएल मीना ने भी जानकारी दी।